Lata Mangeshkar : भारत रत्न लता मंगेशकर का 92 उम्र में निधन, देश में राष्ट्रीय शो​क घोषित

Uk Tak News

Lata Mangeshkar : स्वर कोकिला लता मंगेशकर ने 92 साल में अंतिम सांस ली। जिसके बाद पूरा देश और बॉलीवुड इंडस्ट्री शोक में डूब गई है, साथ ही सरकार ने 2 दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित कर दिया है। जिसके तहत 2 दिन तक राष्ट्रीय ध्वज झुका रहेगा और राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार होगा। आपको बता दें आज सुबह 8:12 पर मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में निधन हो गया है। डॉक्टरों ने बताया कि उनके शरीर के कई अंग खराब हो गए थे और उनका काफी दिनों से इलाज चल रहा था। बॉलीवुड स्टार लता दीदी को नम आखों के साथ श्रद्धांजलि दे रहे हैं।

Lata Mangeshkar : Lata Mangeshkar

आवाज का का जादू :
Lata Mangeshkar : भारत रत्न लता मंगेशकर भारत की नहीं बल्कि​ विदेशों में भी अपनी आवाज का का जादू बिखेर चुकी हैं। उन्होंने तीस से ज्यादा भाषाओं में गाने गाये हैं। भारत सरकार ने उन्हें 2001 में ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किया। लोगों के बीच वो लता दीदी के नाम से जानी जाती हैं। लता मंगेशकर ने छह दशक में लगभग 30 हजार से ज्यादा गाने गाए हैं। उन्होंने अपना पहला गाना महज 13 साल की उम्र में मराठी फिल्म ‘किटी हसाल’ के लिए गाया था।


Lata Mangeshkar

 कठिनाइयों भरा सफर:

Lata Mangeshkar : स्वर कोकिला लता मंगेशकर का जन्म 28 सितंबर 1929 को उत्तर प्रदेश के इंदौर में हुआ था, उनकी परवरिश महाराष्ट्र मेें हुई थी। बचपन से ही गायिका बनना चाहती थी, लेकिन अपने पिता के निधन के बाद उनका एक सफर काफी कठिनाइयों भरा रहा। उन्होंने पांच साल की उम्र से नाटकों में काम करना शुरू किया था। काफी लंबे संघर्ष के बाद लता मंगेशकर ने अपनी मधुर आवाज से पूरी दुनिया को अपनी आवाज का दिवाना बना दिया था। Lata Mangeshkar

 

ये भी पढ़ें : 216 फिट ऊँची स्टैच्यू ऑफ इक्वलिटी की क्या है खासियत? पीएम मोदी ने किया अनावरण..

Leave a Reply

Your email address will not be published.