Do You Know : क्या आप जानते हैं, आप के विधायक हैं कितने पढ़े लिखे, आइए जानते हैं 

Uk Tak News

Do You Know : राजनीतिक दलों के लिए विधानसभा में उम्मीदवारों की शैक्षिक योग्यता अनिवार्य नहीं है, जबकि प्रधान बनने के लिए 10 वीं पास होना बेहद जरूरी है, यानी कि प्रधान बनने के लिए 10वीं पास होना जरूरी है, जबकि विधायक अंगूठा छाप होगा तो भी चलेगा, इसे विडंबना कहेंगे दूसरे लोगों के लिए कानून बनाने वाले नेताओं ने अपनी शैक्षिक योग्यता के लिए कोई कानून नहीं बनाया है, विधानसभा चुनाव में बड़ी जीत दर्ज करने वाले विधायकों कि शिक्षक योग्यता क्या है,आइए जानते हैं |

Do You Know

उत्तराखंड विधानसभा में दो विधायक ऐसे हैं जो आठवीं पास है,
Do You Know : इनमें से कालाढूंगी विधायक बंशीधर भगत और राजपुर विधायक खजान दास का नाम शामिल है | 
साथ ही 8 विधायक ऐसे हैं जो दसवीं पास है, इसमें कपकोट विधायक बलवंत सिंह, धारचूला विधायक हरीश सिंह, पिरान कलियर विधायक फुरकान अहमद, लोहाघाट विधायक पूरन सिंह फर्त्याल, काशीपुर विधायक हरभजन सिंह चीमा, थराली विधायक मदन लाल शाह, मसूरी विधायक गणेश जोशी,कर्णप्रयाग विधायक सुरेश सिंह शामिल है |
Do You Know
Do You Know : साथ ही पांच ऐसे भी विधायक हैं जो 12वीं पास हैं, पौड़ी विधायक मुकेश सिंह,  जसपुर विधायक आदेश सिंह, बीएचएल रानीपुर विधायक आदेश चौहान, जागेश्वर विधायक गोविंद सिंह कुंजवाल, घनसाली विधायक शक्ति लाल शाह है
साथ ही 22 विधायक ऐसे भी हैं जिन्होंने ग्रेजुएशन किया हुआ है,
चंपावत विधायक कैलाश चंद, द्वाराहाट विधायक महेश सिंह नेगी, रायपुर विधायक उमेश काउ, खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन, गदरपुर विधायक अरविंद पांडे, भीमताल विधायक रामसिंह खेड़ा, बागेश्वर विधायक चंदन राम दास, रानीखेत विधायक करण महारा ,अल्मोड़ा विधायक रघुनाथ सिंह चौहान ,सहसपुर विधायक सहदेव सिंह पुंडीर,
Do You Know : झबरेड़ा विधायक देशराज कर्नवाल, गंगोलीहाट विधायक मीना गंगोला, लक्सर विधायक संजय गुप्ता, लैंसडौन विधायक दिलीप सिंह रावत, लालकुआं विधायक नवीन चंद दुमका, यम्केश्वर विधायक रितु खंडूरी, रुद्रप्रयाग विधायक भरत सिंह ,धनोल्टी विधायक प्रीतम सिंह पंवार, धर्मपुर विधायक विनोद चमोली, हरिद्वार विधायक मदन कौशिक, मंगलौर विधायक काजी निजामुद्दीन, किच्छा विधायक राजेश शुक्ला,
Do You Know
75 विधायक ऐसे भी हैं जो ग्रेजुएशन प्रोफेशनल डिग्री कर चुके हैं
जिसमें से विधायक कैंट हरबंस कपूर, चकराता विधायक प्रीतम सिंह, सितारगंज विधायक सौरभ बहुगुणा, यमुनोत्री विधायक केदार सिंह, खटीमा विधायक पुष्कर सिंह धामी,
 
साथ ही 17 विधायक ऐसे भी हैं जो पोस्ट ग्रेजुएट हैं
Do You Know : नरेंद्रनगर विधायक सुबोध उनियाल, सोमेश्वर विधायक रेखा आर्य, विकास नगर विधायक मुन्ना सिंह चौहान, बद्रीनाथ विधायक महेंद्र प्रसाद, टिहरी विधायक धन सिंह नेगी, देवप्रयाग विधायक विनोद कंडारी, हरिद्वार ग्रामीण विधायक यतीश्वरानंद ,प्रताप नगर विधायक विजय सिंह पवार, डोईवाला विधायक त्रिवेंद्र सिंह रावत, भगवानपुर विधायक ममता राकेश, रुड़की विधायक प्रदीप बत्रा, रामनगर विधायक दीवान सिंह बिष्ट, केदारनाथ विधायक मनोज रावत, रुद्रपुर विधायक राजकुमार ठुकराल, ऋषिकेश विधायक प्रेमचंद अग्रवाल, डीडीहाट विधायक बिशन सिंह, ज्वालापुर विधायक सुरेश राठौर,  शामिल है |

Do You Know :

Do You Know

 
आखिर क्यों जरूरी होता है विधायकों का पढ़ा लिखा होना
Do You Know : अक्सर उत्तराखंड में यह आरोप लगते रहे हैं, की नौकरशाही बेलगाम हो गए हैं, और जनप्रतिनिधियों पर हावी हैं, इस हिसाब से देखा जाए तो अगर जनप्रतिनिधि को नियम कानून का बेहतर ज्ञान होगा तो नौकरशाह उन्हें गुमराह नहीं कर पाएंगे, यह माना जाता है कि जनप्रतिनिधि अगर पढ़ा लिखा हो तो बेहतर कार्य हो सकता है, इससे नौकरशाही पर भी लगाम लगी रहेंगी

Leave a Reply

Your email address will not be published.