Holi Festival : होली के लिए इस रंग की बढ़ी डिमांड, बाजार सजे

Uk Tak News

Holi Festival : उत्तराखंड में चुनावी रंगबाजी के बाद अब सभी को होली का इंतजार है। दरअसल पिछले 2 सालों में को भी महामारी के कारण होली का रंग फीका रह गया था। लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण की रफ्तार कम होने की वजह से होली की धूम-धाम एक बार फिर देखने को मिल सकती है।

Holi Festival :   Holi Festival  

नेचुरल कलर:

Holi Festival : होली में सराबोर होने के लिए प्रदेश के बाजारों में गुलाल , रंग,  पिचकारी और अन्य सामानों से सज चुका है। बाजारों में चंदन युक्त पीले कलर की बिक्री सबसे ज्यादा हो रही है। जिन लोगों को रंगो से स्किन एलर्जी होती है। उनके लिए एक विशेष पैकेजिंग का कलर है। यह पूरी तरीके से प्राकृतिक कलर है जो बाजारों में खूब डिमांड में चल रहा है। वहीं केमिकल युक्त रंगों की डिमांड घटती जा रही है, शायद कह सकते हैं कि लोग अब जागरूक हो गए हैं।

Holi Festival: Holi Festival

मंहगाई का रंग :

Holi Festival : होली के लिए अब होली के त्यौहार के लिए 3 दिन बाकी रह गए हैं। होली के सामानों में भी महंगाई का रंग देखने को मिला है। वहीं इस बार पिचकारी के दामों में 25 से 30 फ़ीसदी बढ़ोतरी देखने को मिली है। वहीं व्यापारियों का कहना है कि इस बार होली के सामानों की कीमतों में भी बढ़ोतरी हुई है। Holi Festival

 

ये भी पढ़ें : कश्मीर पंडितों की दास्तां “द कश्मीर फाइल्स” , उत्तराखंड में टैक्स फ्री

Leave a Reply

Your email address will not be published.