Haridwar Mahakumbh Scam : हरिद्वार महाकुंभ घोटाले में SIT टीम ने किया बड़ा खुलासा 

Uk Tak News

Haridwar Mahakumbh Scam : हरिद्वार महाकुंभ मेले के दौरान हुए फर्जीवाड़े घोटाले में SIT की टीम ने मुख्य आरोपी शरद पंत और मल्लिका पंत को गिरफ्तार कर लिया है  शरद पंत और मलिका पंत मैक्स कॉर्पोरेट सर्विसेज में सर्विस करते थे , आपको बता दे की हरिद्वार कुम्भ के दौरान कोविड -19 टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव बनाकर सरकार की आँख में धूल झोकने का काम इन लोगो के द्वारा किया था |

Haridwar Mahakumbh Scam

 

Haridwar Mahakumbh Scam : एक ही टेस्ट किट से 700 से अधिक सैंपल की टेस्टिंग इनके द्वारा की गयी थी , साथ ही सैकड़ो लोगो के नाम पर एक ही मोबाइल नंबर लिखा गया था , जिसके बाद जब सरकार ने जाँच कराई तो सामने आया की लैब में ज्यादातर लोगो का नाम पता और मोबाइल नंबर है ही नहीं जो की पूरी तरह से फर्जी पाया गया कुम्भ के दौरान सरकार ने टेस्ट की दरों में समय समय बदलाव किया था एंटीजन टेस्ट के लिए 300 रूपये दिए जाते थे और आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए तीन अलग अलग श्रेणी बनाई गयी थी | 

Haridwar Mahakumbh Scam

Haridwar Mahakumbh Scam: 

 
ऐसे खुली कुम्भ घोटाले की पोल :
Haridwar Mahakumbh Scam : LIC एजेंट विपन मित्तल को उत्तराखंड की एक लैब से फोन आता है, जिसमें यह कहा जाता है कि ‘आप की रिपोर्ट निगेटिव आई है’, जिसके बाद विपन जवाब देता है कि उसका तो कोई कोरोना टेस्ट कराया ही नहीं  जिसके बाद विपन ने फौरन स्थानीय अधिकारियों को मामले की जानकारी फ़ोन पर दीसाथ ही भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद से शिकायत की. ICMR ने घटना को गंभीरता से लेते हुए उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग से जवाब मांगा तो मामले का खुलासा हुआ की फर्जी तरीके से कुम्भ में लोगो की रिपोर्ट बनाई जा रही है |  

Leave a Reply

Your email address will not be published.