Sankashti Chaturthi Puja 2022 : द्विजप्रिय संकष्टी चतुर्थी पर गणपति की पूजा से दूर होंगे संकट

Uk Tak News

Sankashti Chaturthi Puja 2022 : फाल्गुन मास की संकटी चतुर्थी को द्विजप्रिय संकटी चतुर्थी कहा जाता है। इस साल संकष्टी चतुर्थी 20 फरवरी यानी आज है। मान्यता है कि इस दिन भगवान गणेश और गौरी मां की पूजा करने से कष्ट दूर होते हैं और घर में सुख-समृद्धि आती है। हिन्दू पंचांग के अनुसार द्विजप्रिय संकष्टी चतुर्थी का व्रत का समापन रात 9 बजकर 05 मिनट पर हो जायेगा।

Sankashti Chaturthi Puja 2022: Sankashti Chaturthi Puja 2022 

गणेश और मां गौरी की पूजा :

Sankashti Chaturthi Puja 2022 : संकष्टी चतुर्थी पर गणेश भगवान और मां गौरी की पूजा करने से सुख-समृद्धि मिलती है। इस दिन व्रत के बाद गणेश की पूजा और कथा करके उनको भोग लगाते हैं, साथ ही पांच दूर्वा में 11 गांठें को लाल धागे में बांधकर गणेश भगवान के पास रखते हैं। जिसके बाद गणेश की पूजा की जाती है। ऐसा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

Sankashti Chaturthi Puja 2022 : Sankashti Chaturthi Puja 2022

ऐसे करें पूजा :

इस दिन लाल रंग के कपड़े पहनकर व्रत रखें

लकड़ी की चौकी पर भगवान गणेश की मूर्ति रखें

पूजा के इस दौरान “ॐ गणेशाय नमः ” मंत्र का जाप करें

मिठाई, मोदक और लड्डू का भोग लगाए

गणपति की पूजा चांद निकलने से पहले करें

चंद्रमा को अर्घ्य देकर ही अन्न को खाएं

ये भी पढ़ें : पहाड़ों में प्योली के फूल क्यों होते हैं इतने खास ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.